Acharya Indu Prakash
Fashion Blog

It's common knowledge that a large percentage of Wall Street brokers use astrology.

Acharya Indu prakash

GOVATS DWADASHI



बेटा जियो हजारो साल

संतान सुख की कामना रखने वालों के लिए यह व्रत शुभ फल दयाक होता है | गौ पूजन करने वाले को श्री विष्णु का आशीर्वाद प्राप्त होता है |

संतान सुख की कामना रखने वालों के लिए यह व्रत शुभ फल दायक है। गोवत्स द्वादशी व्रत कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की द्वादशी को मनाया जाता है। इस दिन गायों तथा उनके बछड़ों की सेवा की जाती है। इस व्रत में प्रदोषव्यापिनी तिथि को ग्रहण किया जाता है। यदि घर के आसपास गाय और बछड़ा नहीं मिले तब गीली मिट्टी से गाय तथा बछडे को बनाए और उनकी पूजा करें। यदि यह भी संभव नहो तो चित्र में इनकी पूजा की जा सकती है। इस व्रत में गाय के दूध से बनी वस्तुओं का प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए। गोवत्स द्वादशी महत्व -गोवत्स द्वादशी के विषय में कई पौराणिक आख्यान मौजूद है एक कथा नुसार राजा उत्तानपाद ने पृथ्वी पर इस व्रत को आरंभ किया उनकी पत्नी सुनीति ने इस व्रत को किया और उन्हें इस व्रत के प्रभाव से बालक ध्रुव की प्राप्ति हुई। अतः निःसंतान दम्पतियों को इस व्रत को अवश्य करना चाहिए। संतान सुख की कामना रखने वालों के लिए यह व्रत शुभ फल दायक होता है। गोवत्स द्वादशी के दिन किए जाने वाले कर्मों में सात्त्विक गुणों का होना अनिवार्य है।। गौ पूजन करने वाले को श्री विष्णु का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

Couple should definitely observe this fast- For

those desiring happiness for their child.

For those desiring happiness for their child] this vrat is beneficial Govats Dwadishi vrat is observed on the Krishna paksh day of the Karthik moth- On this day cows and their calves are served- This vrat is observed on the Pradosh vyaapini Tithi- If a cow and her calf cannot be found near your house build statues of them with wet mud and worship them- And if that is not possible their pictures/ photos can be worshipped- Products made of cow’s milk should be avoided.

Govats Dwadishi – There are many ancient stories regarding Govats Dadishi. According to one story King Uttanpaad started this vrat in this world and his wife Suniti observed this vrat and gave birth to a boy named Dhruv- Hence childless couple should definitely observe this fast. For those desiring happiness for their child this vrat is beneficial- Everything done on Govats Dwadishi must be done with a positive mind. Those worshipping cows are blessed by Lord Vishnu.

 

 गोवत्स  द्वादशी   पर

 

अचूक  मन्त्र

 

दीपावली नजदीक है और दीपावली से पहले के ये दिन आपके लिए बेहद खास है।

दीवाली से चार दिन पहले आपको गाय का महत्व समझना होगा क्योंकि यही गाय

खोलेंगी आपके लिए तरक्की का रास्ता कामधेनु करेगी आपकी सारी मनोकामना पूरी।

कैसे एक गाय आपके जीवन में खुशहाली ला सकती है। दीपावली पर आपकी चांदी करवा सकती है। दीपावली नजदीक है और दीवाली से पहले के ये दिन आपके लिए बेहद खास है। दीपावली से चार दिन पहले आपको गाय का महत्व समझना होगा क्योंकि यही गाय खोलेंगी आपके लिए तरक्की का रास्ता कामधेनु करेगी आपकी सारी मनोकामना पूरी। द्वादशी के दिन आप अपने सारे मनोरथ सिद्ध कर सकते हैं। ये गाय खोलेंगी दीपावली पर लक्ष्मी जी के लिए रास्ते ये गाय माता ही सालभर करेंगी धन वर्षा। जिस तरह घर से निकलते वक्त दूध पिलाती गाय के दर्शन शुभ होते हैं उसी तरह दीवाली से ठीक पहले पड़ने वाला गोवत्स द्वादशी का व्रत खाली पड़े भंडार भर देता है। गोवत्स द्वादशी के व्रत से ही खुलेंगे आपकी तरक्की के रास्ते लक्ष्मी जी आप पर कितना मेहरबान होंगी कितने दिन आपके यहाँ निवास करेंगी ये सब इस बात पर निर्भर करेगा कि गोवत्स द्वादशी का आपका दिन कैसे बीतता है। आपको कितनी बार गाय माता के दर्शन होते है।

सेहत के लिए अचूक मन्त्र !

60 ग्राम सूखा धनिया और 6 महुए गाय की पूँछ से स्पर्श कराकर अपने ऊपर से 6 बार सीधा और 1 बार उल्टा वारें ... उसके बाद से सारी सामग्री बहते पानी में विसर्जित कर दें। एक और उपाय है जो आप कर सकते हैं। बेल की टहनी और पीपल की टहनी ले लें इन दोनों को रात में अपने बिस्तर पर अलग – अलग रखकर सोयें। एक दूसरे से मिले नहीं सुबह उठकर इन दोनों टहनियों को नदी में प्रवाहित कर दें।

पैसा पाने का अचूक मन्त्र !

6 बेलपत्र और 1 साबुत हल्दी ले लें ... इन दोनों को गाय के माथे से छुआकर अपने घर में रख लें। इसके अलावा एक और उपाय आप कर सकते हैं। दरुहरिद्रा, मंजिष्ठ और छह कौडि़याँ ले लें इन तीनों को गाय से स्पर्श करवाकर अपने घर में रखेंगे तो देखिये लक्ष्मी जी आप पर किस तरह मेहरबान होती हैं।

दाम्पत्य संबंधों में रोमांस बढ़ाने के लिए अचूक उपाय !

अगर आपके घर में कलह होती है या दाम्पत्य जीवन मधुर नहीं है तो रोमांस के लिए ये अचूक मन्त्र है ..एक पत्ते वाली मूली और थोड़ा सा पुदीना ले लें इन दोनों को नीले कपड़े में बांधे रातभर सिरहाने रखकर सोयें। और सुबह इन दोनों चीजों को गाय को खिला दें। दूसरा उपाय भी बेहद आसान है एक टुकड़े में कपूर लपेटकर गाय को स्पर्श कराएं उसके बाद इसे अपने सिरहाने रखकर सो जाएं और सुबह पूजा करते वक्त कपूर जला दें और एक घी का दिया अपने घर की पश्चिमी दिशा में जला दें।

छात्रों की सफलता का अचूक मन्त्र !

ये अचूक उपाय उन छात्रों के लिए है जिन्हें काफी मेहनत के बाद भी सफलता नहीं मिलती ये लोग हरड़, महुआ और काली सरसों ले लें इन तीनों को काले कपड़े में बाँध कर गाय की पूंछ से स्पर्श कराएं और उसके बाद इस पोटली को अपनी स्टडी कक्ष में रख लें ....साथ ही ये उपाय भी किया जाता है कि हाथी के पैर की मिट्टी अपनी पढ़ाई वाली जगह पर रख लें और परीक्षा में जाते वक्त इसका तिलक लगाना ना भूलें।



Advertise

Your AD Here

Related Articles


Contact Us

Now You can publish your articles with us. if selected it will be publised in our magazines after taking your conformation