Acharya Indu Prakash
Fashion Blog

It's common knowledge that a large percentage of Wall Street brokers use astrology.

Acharya Indu prakash

धन, सुख और समृद्धि पाने के उपाय



शनिवार को लोहे के किसी भी बर्तन में जल भर ले और उसमे दूध, चीनी, धी डाल कर उसको मिला ले । इसके बाद इस जल को पीपल के पेड़ पर चढ़ा दे । इस उपाय को करने से आपके घर में लम्बे समय तक सुख-समृद्धि बनी रहेगी ।
एक नारियल ले और उस पर रोली, कामिया सिन्दूर साथ ही अक्षत चढ़ा कर नारियल की पूजा करे । इसके बाद नारियल को उठा लीजिए और नारियल को हनुमान जी के मंदिर में उनकी मूर्ति के समक्ष चढा दे । इस विधि को करने से आपको धन लाभ होगा । साथ ही धीरे-धीरे आपके धन में बढ़ोतरी होना शुरु हो जायगी ।
मां लक्ष्मी की प्रतिमा के सामने 11 दिनों तक अखंड ज्योत प्रज्वलित करें । 11वें दिन 11 कन्या को भोजन कराकर एक-एक सिक्का व मेहंदी देने से घर की आर्थिक स्थिति अच्छी बनेगी । तथा शुक्रवार के दिन दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर भगवान विष्णु का अभिषेक करने से मां लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न हो जाती हैं । 
जिस घर के लोग सूर्योदय से पहले उठ जाते हैं और पूजा करके हीं नाश्ता करते हों, उस घर पर लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है । घर में टूटे-फूटे चीजों को घर में नहीं रखना चाहिए । रात में खाना खाने के बाद जूठे बर्तन रसोई में न छोड़ें । बर्तन और रसोई की सफाई करने के बाद हीं सोयें । शाम होने के बाद घर में झाड़ू न लगाए ।

Fill some water in any iron vessel and add milk, sugar, white butter to it and mix them together. take this mixed water and put it as offering, on the Peepal tree. By following this procedure, happiness and prosperity will remain in your house. Take a coconut and offer prayers to the coconut, by putting Roli (sacred thread), Vermillion powder, along with Akshat (Raw unbroken rice). After this, pick up the coconut and offer it in the Temple of Lord Hanuman, in front of the statue of Lord Hanuman. By following this ritual, you will gain wealth. At the same time, will result in gradually increasing your wealth.
 



Advertise

Your AD Here

Related Articles


Contact Us

Now You can publish your articles with us. if selected it will be publised in our magazines after taking your conformation