ज्योतिषहिंदी

नकारत्मकता को दूर करने का उपाय, 9 मुखी रुद्राक्ष

माँ दुर्गा के नौ रूपों की शक्तियां नौ मुखी रुद्राक्ष (9 mukhi rudraksha) में निहित हैं | इस रुद्राक्ष को स्वयं माँ दुर्गा का अशिर्वाद प्राप्त है | माँ दुर्गा के नौ रूपों में मां शैलपुत्री, ब्रहमचारिणी, चन्द्रघण्टा, कुष्माण्डा, स्कन्दमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्री शामिल हैं | काल भैरव के आशीर्वाद से कोई भी व्यक्ति यह नौ मुखी रुद्राक्ष (9 mukhi rudraksha) धारण कर किसी भी तरह तनाव या नकारत्मकता से दूर रह सकता है | काल यानि यमदेव और काल भैरव दोनों ही नौ मुखी रुद्राक्ष (9 mukhi rudraksha) धारण करने वाले की रक्षा करते हैं | केतु ग्रह की समस्त परेशानियों से इस रुद्राक्ष निजाद मिलती है क्योंकि नौ मुखी रुद्राक्ष पर केतु ग्रह का ही अधिपत्य है|

9 मुखी रुद्राक्ष (9 mukhi rudraksha) धारण करने के लाभ:-

Image result for 9 मुखी रुद्राक्ष
– मस्तिष्क, फेफड़े, गर्भपात, गर्भधारण में कठिनाई, मिर्गी, आंख या आंत या शरीर के किसी अन्य हिस्से में दर्द और त्वचा संबंधी परेशानियां केतु ग्रह जनित दोष हैं, अत: नौ मुखी रुद्राक्ष धारण करने से आपको इन सभी परेशानियों से निजाद मिलेगी |
– इससे व्यक्ति की इच्छा शक्ति और लक्ष्य के प्रति ध्यान में वृद्धि होती है | यानि कमजोर  एकाग्रता वाले व्यक्ति के लिए भी यह
रुद्राक्ष लाभदायक है |

नौ मुखी रुद्राक्ष (9 mukhi rudraksha) धारण करने की विधि:-

धारण करने के लिए पहले रुद्राक्ष को गंगाजल से स्नान कराएँ और फिर इसकी पूजा करें | इसके बाद रुद्राक्ष को देवी मां और भगवान शिव का आशीर्वाद दिलाकर मंत्रों का जप करें | मंत्र है:-

ऊँ ह्रीं नमः।

अगर आपको नौ मुखी रुद्राक्ष प्राप्त करना है तो Astro E Shop वेबसाइट पर कर सकते हैं | यहाँ पर सही नक्षत्रों में बने रुद्राक्ष, यंत्र और रत्न मिलते है |
इसके अलावा आप अगर आपको ऐसा लगता है की अपने जीवन में कोई समस्या है तो आप आचार्य इंदु प्रकाश जी से मिल कर अपनी समस्या का समाधान भी पा सकते हैं |

#AcharyaInduPrakash #WorldBestAstrologer #AstroEShop #Rudraksha #NineFaceRudraksha

Leave a Response