आध्यात्मिकहिंदी

शंख बजाने के हैं कईं लाभ

हिन्दू मान्यताओं में शंख (Shankh) का बहुत बड़ा महत्व है | जहाँ यह पानी के अंदर किसी जीव का खोल बने रहता है वहीं इसकी महत्वता कईं गुना बढ़ जाती है | शंख कईं क्षेत्रों में विख्यात है | योग में शंख मुद्रा, आयुर्वेद में शंख पुष्पि और शंख भस्म का प्रयोग, प्राचीनकाल में शंख लिपि का होना इस बात का सुबूत है की शंख हमारे जीवन और हमारी परंपरा में कितना महत्व रखता है | इसे देश के कईं भागों के मन्दिरों में रखा जाता है |

Image result for shankh

शंख (Shankh) वास्तु दोष के अलावा कईं समस्याओं से हमें निजाद दिलाता है | शंखों की महत्वता महाभारत और पुरानों में देखने को मिलती है | इसके मुख्यत: 3 प्रकार होते हैं दक्षिणावृत्ति शंख, मध्यावृत्ति शंख तथा वामावृत्ति शंख।

अब हम बात करते हैं शंख (Shankh) के लाभ की |

शंख (Shankh) माता लक्ष्मी की तरह ही समुद्र से उत्पन्न हुआ है, इसीलिए यह लक्ष्मी का भाई है | इसीलिए माना जाता है की घर में शंख रखने से लक्ष्मी आती है |

पूजा के वक्त शंख बजाने से वातावरण पवित्र होता है और इसकी ध्वनि सुनने वाले भक्तों में सकारात्मकता का प्रवाह होता है |

शंख (Shankh) से दुष्ट आत्माएं पास नहीं आती और ऐसी मान्यता भी है की इसकी पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं |

सांस की समस्याओं से ग्रहस्त व्यक्ति अगर शंख बजाएं तो उन्हें समस्या से आराम मिलेगा |

अगर घर में वास्तु दोष हो तो तो घर पर शंख रखने से सकारात्मक उर्जा का प्रवाह होगा और वास्तु दोष दूर होगा |

जीवन की किसी समस्या का समाधान पाने के लिए आचार्य इंदु प्रकाश जी (Acharya Indu Prakash Ji) से परामर्श हेतु सम्पर्क करें |

#Shankh #Acharyainduprakash #Bestastrologeringurgaon #Astrology #Dakshinavartishankha #Lakshmishankh #ConchshellConch Shell

Leave a Response