हिंदी

सफलता और भावनाओ में बैलेंस कैसे बनाये

Image result for success and emotion
कौन नहीं चाहता अपने ख्वाब पुरे करना? किसे नहीं पसंद सफतला की सीढियों पे चढ़ना. हम सब चाहते  है. पर क्या हम सच मैं अपना 100 प्रतिशत  देते हैं? ये सवाल कभी खुद से पूछिए आपको अपना जवाब मिल जायेगा. और इस सवाल का जवाब आपको आपसे बेहतर कोई नहीं दे सकता. क्यों? क्योंकि  आपको आपसे बेहतर कोई और नहीं जनता. आप दुसरों से झूठ बोल सकते है की आपने ये किया आपने वो किया. लेकिन सच सिर्फ आप जानते है | आपको पता है आपकी गलतियाँ कहाँ है |
हम अक्सर अपनी भावनाओ में बह जाते और कुछ ऐसे फैसले कर लेते है जो हमारे भविष्य को प्रभावित करता है | हमारी सफलता में भी हमारी भावनाओं का एहम योगदान है. हमारी भावनाए सकारात्मक हैं या नकारात्मक ।
सफल इन्सान वही होता है जिसे ये पता हो की किस समय क्या करना चाहिए । बेशक उसकी भावनाएं उसे वो ना करने दे | और ये भी सही नहीं है की हम अपनी सफलता में इतने खो जाये की हम अपनी भावनाओं को नजर अंदाज कर दें ।
जैसे प्रकृति ने हर चीज़ को संतुलित बनाया है वैसे ही हमे भी अपनी भावनाएं और अपने काम को संतुलित करके रखना चाहिए | ज़िन्दगी में संतुलन बेहद ज़रूरी हैं |

If you feel low in motivation in your life or you want get rid of negative thinking then meet the best astrologer in Gurgaon Acharya Indu Prakash.

भावना और सफलता पर कहानी

एक माँ थी जो अपने बेटे से बहुत प्रेम करती थी और लाड़ करती थी | वो चाहती थी की उसका बेटा हमेशा उसके साथ ही रहे. जब बेटा बड़ा हुआ तब उसे विदेश से नौकरी का प्रस्ताव आया. वो जाना चाहता था लेकिन वो जानता  था की उसकी माँ उसे जाने नहीं देगी. उसने सोचा की फिर भी एक बार माँ को बता देता हुं. उसने जब अपनी माँ को बताया तब उसकी माँ ने कहा कि बेटा में प्यार तुझसे बहुत करती हुं लकिन इसका मतलब ये नहीं की मेरा प्यार तेरे भविष्य से बड़ा है | उसकी माँ ने अपनी भावनाओ पे काबू किया और अपने बेटे को जाने दिया. थोड़े समय बाद उसके बेटे को मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब मिला और उसने अपनी माँ को भी वहां बुला लिया |
ये भावनाओ का खेल अनोखा है | सफलता के लिय एक सकारात्मक सोच होना ज़रूरी हैं | सफलता ख़ुशी लाती है साथ ही कुछ बेहतर करने के लिए प्रेरित भी करती है | 

Do you can’t concentrate in your work then it can effect in your professional life. Remove all the possibilities by meeting the world’s best astrologer Acharrya Indu Prakash.

Leave a Response