त्योहारहिंदी

शनि जयंती की पूजा विधि

हर वर्ष ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की अमावस्या के दिन यानि 3 जून, 2019 के दिन शनि जयंती (Shani Jayanti 2019) मनाई जाती है | शनि देव न्याय के देवता हैं | इनका वर्ण कला है इसीलिए इन देवता को काला रंग बहुत प्रिय है |

एक कथा के अनुसार, शनि सूर्य और उनकी पत्नी छाया के पुत्र | सूर्य देव का विवाह संज्ञा के साथ हुआ | और उन्हें तीन संतान मनु, यम और यमुना प्राप्ति हुई | लेकिन संज्ञा ज़्यादा समय तक सूर्य के ताप नही श पाई और अपनी छाया को सूर्य की सेवा के लिए छोड़ कर वहाँ से चली जाती है | कुछ समय बाद छाया ने शनि देव को जन्म दिया |

शनि जयंती (Shani Jayanti 2019) पूजा विधि

– शनि जयंती के दिन सुबह जल्दी उठ स्नान आदि करें और फिर नवग्रहों को नमस्कार करें |
– फिर शनीदेव की लोहे की मूर्ति करने के पश्चात मूर्ति को तिल या सरसों के तेल से स्नान कराएँ और शनि देव का पूजन करें |
– इसके बाद पूजा की सामग्री के साथ शनि से सम्बन्धित वस्तुएँ दान करें | ऐसा करने के पश्चात दिन भर व्रत करें |
शनि देव की पूजा करने से व्यक्ति को बहुत लाभ होता है | जैसे :-
– शनि देव का पूजन करने से घर परिवार में शांति बनी रहती है |
– समृधि के लिए रस्ते खुल जाते है अथवा रुके हुए काम भी बनने लगते है |
– छात्रों को प्रतियोगिता में मदद मिलती है |

शनि जयंती (Shani Jayanti 2019) के दिन किये जाने वाले उपाय जानने के लिए अथवा शनि की परेशानियों से निजाद पाने के लिए मिलिए आचार्य इंदु प्रकाश जी से और मिटाईये अपनी सभी परेशानियां |

#shaniJayanti #shani #jayanti # #acharyaInduPrakash #worldsBestAstrologer #bestAstrologer #shaniKyaHai #shaniDev #jayantiShani

Leave a Response