आध्यात्मिकहिंदी

कन्यादान से बढ़ा कोई दान नहीं

Image result for kanyadaan
कन्यादान हिन्दू विवाह समारोह में एक ऐसी रस्म है जो हर परिवार को भावुक कर देती है | कन्यादान वह रस्म है जो एक पिता अपनी बेटी की शादी में दूल्हे को सौंप देता है |
कन्यादान किसी भी हिंदू शादी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण रस्म है | बाप अपनी घर की लक्ष्मी यानि अपनी बेटी को विष्णु का प्रतिनिधित्व करने वाले दूल्हे को बहुत विश्वास के साथ दे देता है | ऐसा माना जाता है की जब एक बाप अपनी बेटी का कन्यादान सफलतापूर्वक कर देता है तो ये एक बाप के लिए बहुत सौभाग्य की बात होती है | इसके बाद की गयी सात फेरों की रस्म विवाह के अनुष्ठान को पवित्र करती है | सात फेरे ले कर दूल्हा और दुल्हन एक दूसरे से सदा साथ रहना और साथ निभाने जैसे सात वचन करते हैं |
वधू के पिता अपने पारिवारिक वंश के बारे में सोचकर अनुष्ठान की शुरुआत करते हैं। तब वह वर और वधू पक्ष दोनों से पूर्वजों के लिए स्वर्ग, शुद्धि और आत्माओं के उत्थान की कामना करते हैं। अनुष्ठान: पिता द्वारा यह घोषणा करने के बाद कि वह अपनी लक्ष्मी को विष्णु के रूप में मानते हुए दूल्हे को दे रहा है, शपथ को पवित्र करने का अनुष्ठान शुरू होता है। दक्षिण भारत में, मंत्र या वैदिक मंत्रों के जाप के माध्यम से पानी के एक पात्र को पवित्र किया जाता है। तांबे की थाली रखी जाती है, दुल्हन पानी रखने के लिए अपने पिता की हथेली पर अपनी हथेली रखती है। दूल्हा भी अपनी हथेली अपने ससुर की हथेली के नीचे रखता है | तब पुजारी पवित्र जल दुल्हन की हथेली में डालता है और वह पवित्र जल उसकी हथेली से होते हुए बाप की हथेली पर जाता है और वहां से जल दूल्हे की हथेली में जा पहुँचता है |
उत्तर भारत में, दुल्हन की हथेली को एक बर्तन में रखा जाता है, उसकी हथेली को दूल्हे की हथेली द्वारा पकड़ लिया जाता है। दुल्हन के हाथ में, फूल और सुपारी रखी जाती है और मंत्रोच्चार करते हुए पवित्र गंगा का जल डाला जाता है और फिर मेहमानों से फूलों की बौछार के बीच युगल के हाथों को एक सफेद कपड़े से बांधा जाता है। पुजारी द्वारा मंत्र का जाप पूरा करने के बाद, दूल्हा अपनी जिम्मेदारी को प्रथागत तरीके से स्वीकार करता है और घोषणा करता है कि वह दुल्हन को अपनी पत्नी के रूप में स्वीकार कर रहा है क्योंकि वह धर्म मार्ग पर चलना चाहता है। धार्मिकता के मार्ग से वह और उसकी पत्नी संतान, धन और सुख प्राप्त करेंगे।

If you are facing any problems in your marriage, or you want to consider world’s best astrologer for match making, then book an appointment with Acharya Indu Prakash.

Leave a Response