ज्योतिषहिंदी

पंचक नक्षत्र कब है क्या होते है पंचक नक्षत्र

ज्योतिष शास्त्र में पाँच नक्षत्रों के विशेष मेल को पंचक (Panchak) कहा जाता है | शास्त्रों के मुताबिक चंद्रमा जब कुम्भ मीन राशि पर रहता है तब उस वक्त पंचक होता है | चंद्रमा एक राशि में ढाई दिनों तक रहता है और दो राशियों में पाँच दिनों तक | इस दौरान चंद्रमा पाँच नक्षत्रों (धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद और रेवती) से भी गुजरता है | अत: ये पाँच दिन पंचक (Panchak) कहे जाते हैं |
आने वाली 25 मई, 2019 के दिन पंचक (Panchak) नक्षत्र शुरु होगा और 30 मई, 2019 तक रहेंगे | एक मान्यता ऐसी भी है इस दौरान हमें लकड़ी से जुड़ा कोई भी काम नही कराना चाहिए | इस वक्त लकड़ी का काम कराना वर्जित होता है | इस नक्षत्र में ना तो किसी को लकड़ी खरीदने चाहिए, ना ही लकड़ी का काम कराना चाहिए, ना ही घर बनवाने के लिए लकड़ी इकठ्ठा करनी चाहिए | यह पंचक (Panchak) नक्षत्र हर 27 दिनों के बाद आते हैं | तो कभी भी लकड़ी से हुदा काम करें तो यह नक्षत्र को ध्यान में रखें |
अगर आप घर के वास्तु के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं या अपने जीवन से जुडी किसी समस्या का समाधान प्राप्त करना चाहते हैं तो मिलिए आचार्य इंदु प्रकाश जी से और जानिए अपनी समस्त समस्याओं का समाधान |

#bestAstrologer #panchak #panchakNakshatra #nakshatra #indiaTvAstrologer #indiaTvCelebrityAstrologer #astrologerInGurugram

Leave a Response