Author name: Admi

सत्य कि जीत में डुबो देने वाली होली पर्व का महत्वा।

अखंड भारत वर्ष में होली का त्यौहार अपनी सांस्कृतिक और पारम्परिक मान्यताओं की वजह से प्रसिद्ध व बड़े हर्षो-उल्लास के साथ मनाया जाता है। होली त्यौहार का उल्लेख धार्मिक व पौराणिक पवित्र पुस्तकों में प्रमाणित रूप वर्णित मिलता है। चारों ओर बिखरता संगीत ढोल और नागाडो पर थिरकते हुये पैर रंगों से सराबोर और रंगो […]

सत्य कि जीत में डुबो देने वाली होली पर्व का महत्वा। Read More »

जानिये व्यक्ति को कैसे डुबो देता है जन्मकुंडली में बना गुरु चांडाल योग

भारतीय ज्योतिषशास्त्र के अनुसार जन्मकुंडली में अनेकों शुभ-अशुभ योग निर्मित रूप से मानव जीवन पर सदैव अपने प्रभावों से जोड़े रखते हैं और समायानुसार मानवता की स्थितियों को प्रभावित करते रहते हैं |  बात करते है आज जन्मकुंडली बन रहे चांडाल योग की – जन्मकुंडली में चांडाल योग राहु और गुरु के युक्त या दृष्टि संबंध से

जानिये व्यक्ति को कैसे डुबो देता है जन्मकुंडली में बना गुरु चांडाल योग Read More »

धनतेरस और उस दिन किये जा सकने वाले राशि अनुसार उपाय

आयोग्य हेतु धन्वंतरि मंत्र- ऊं नमो भगवते महासुदर्शनाय वायुदेवाय धन्वंतरायेः । अमृतकलश हस्ताय सर्व भयविनाशाय सर्व रोगनिवारणाय ।। त्रिलोकपथाय सर्व रोगनिवारणाय श्री महाविष्णुस्वरुप । श्री धनवंतरी स्वरुप श्री श्री औषधचक्र नारायणाय नमः ।। कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धनतेरस का त्योहार मनाया जाता है । इसी दिन आयुर्वेद के गुरु कहे जाने वाले

धनतेरस और उस दिन किये जा सकने वाले राशि अनुसार उपाय Read More »

Types Of Happy Diwali In World….शुभ दीपावली

शुभ दीपावली  दीपावली दीपों का उत्सव है । महान ग्रंथ भविष्योत्तर के 140 में इसे ”दीपालिका“ कहा गया है । मुख्य रुप से यह पर्व पांच दिनो तक चलता है । इसकी शुरुआत कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी से होती है । जिसमें भगवान धन्नवंतरि की पूजा की जाती है । इसके अगले दिन चतुर्दशी को

Types Of Happy Diwali In World….शुभ दीपावली Read More »

इतिहास के महान गुरु और उनके शिष्य

महान गुरु और उनके शिष्य द्रोणाचार्य और एकलव्य – गुरु और शिष्यों की जोड़ी में सबसे चर्चित जोड़ियों में इनका नाम आता है, लेकिन एकलव्य को गुरु द्रोणाचार्य से शिक्षा कैसे मिली, यह जानकर आप भी हैरान हो जायेंगे । दरअसल गुरु द्रोणाचार्य ब्राह्मण तथा क्षत्रिय वर्ग को ही शिक्षा देते थे, लेकिन एकलव्य एक निषाद

इतिहास के महान गुरु और उनके शिष्य Read More »