आध्यात्मिक

कुष्मांडा देवी का पूजन नवरात्र के चौथे दिन

देवी कुष्मांडा (Kushmanda Devi) माँ दुर्गा का चौथा स्वरुप हैं | बहुत समय पहले, जब श्रृष्टि का कोई वजूद नहीं था और हर तरफ अन्धकार था, तब मान्यता है की इन्ही माता की मंद हंसी से ब्रह्मांड की उत्पत्ति हुई थी | इसीलिए इनका नाम आदिशक्ति और आदिस्वरुपा भी है | आठ भुजाएं होने के …

कुष्मांडा देवी का पूजन नवरात्र के चौथे दिन Read More »

नवरात्र में कैसे करें माँ चंद्रघंटा को प्रसन्न

नवरात्र का तीसरा दिन माँ चंद्रघंटा (Maa Chandraghanta) को समर्पित होता है | माता शैलपुत्री और ब्रह्मचारिणी के बाद तीसरे दिन माँ चंद्रघंटा की पूजा-अर्चना की जाती है | माथे पर घंटे के आकार का चंद्र होने के कारण इन देवी को चंद्रघंटा कहा जाता है | सिंह पर सवार माता का शरीर स्वर्ण जितना …

नवरात्र में कैसे करें माँ चंद्रघंटा को प्रसन्न Read More »

mata

माता महालक्ष्मी व्रत से होगी धन की वृद्धि

नीके दिन जब आइहैं, बनत न लगिहैं देर जब एक हुआ तो दस होते दस हुए तो सौ की इच्छा है | सौ पाकर भी यह सोच हुआ की सहस्त्र हों तो अच्छा है | बस यही हाल है हम सब का जिसके पास जितना है उससे और अधिक की लालसा बनी रहती है हम …

माता महालक्ष्मी व्रत से होगी धन की वृद्धि Read More »

नवरात्र के दुसरे दिन पूजें माँ ब्रह्चारिणी

जैसा की नवरात्रि के दौरान नौ विशेष रात्रियों में माँ दुर्गा के नौ रूपों की पूजा अर्चना की जाती है और उनका आशीर्वाद प्राप्त किया जाता है | इसमें पहले दिन माँ शैलपुत्री की पूजा होती है, जिससे भक्त माता से भूमि, भवन और वाहन का आशीर्वाद प्राप्त करते हैं | फिर दुसरे दिन माता …

नवरात्र के दुसरे दिन पूजें माँ ब्रह्चारिणी Read More »

इस दिन मिलता है भवन और वाहन का आशीर्वाद

नवरात्र (Navratri) यानि नौ विशेष रात्रियां | इन रात्रियों में आदिशक्ति के नौ रूपों का पूजन किया जाता है | नवरात्री के हर दिन एक अलग देवी की पूजा का विधान है | हर एक दिन एक देवी को समर्पित है, उनके निर्धारित दिन पर उनकी पूजा करने पर माता अत्यंत प्रसन्न होती हैं और …

इस दिन मिलता है भवन और वाहन का आशीर्वाद Read More »

कितना शुभ है स्फटिक शिवलिंग ?

शिवलिंग (Shivling) भगवान शिव का प्रतिक है | सभी शिव भक्त शिवलिंग का पूर्ण भक्तिभाव से पूजन करते हैं | हर भक्त अपने घर, ऑफिस या काम करने की जगह पर एक शिवलिंग की स्थापना ज़रूर करता है | जो लोग अपने जीवन में रोग मुक्त होना चाहते हैं तो उन्हें शिवलिंग की स्थापना ज़रूर …

कितना शुभ है स्फटिक शिवलिंग ? Read More »

सिद्धिविनायक मन्दिर का क्या है इतिहास ?

मुंबई में स्थित भगवान गणेश (Shree Ganesh) को समर्पित सिद्धिविनायक मन्दिर (Siddhivinayak Mandir) सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में प्रसिद्ध है | इस मन्दिर का निर्माण 1801 में विट्ठु और देउबाई पाटिल ने करवाया था | यहाँ हर धर्म और जाती के भक्त भगवान गणेश (Shree Ganesh) के दर्शन करने आते हैं …

सिद्धिविनायक मन्दिर का क्या है इतिहास ? Read More »

शंख बजाने के हैं कईं लाभ

हिन्दू मान्यताओं में शंख (Shankh) का बहुत बड़ा महत्व है | जहाँ यह पानी के अंदर किसी जीव का खोल बने रहता है वहीं इसकी महत्वता कईं गुना बढ़ जाती है | शंख कईं क्षेत्रों में विख्यात है | योग में शंख मुद्रा, आयुर्वेद में शंख पुष्पि और शंख भस्म का प्रयोग, प्राचीनकाल में शंख …

शंख बजाने के हैं कईं लाभ Read More »

वरलक्ष्मी व्रत से मिलगा धन, यश और सम्मान

श्रावण माह के शुक्ल पक्ष के दसवें दिन स्त्रियाँ हिन्दू धर्म का सबसे बड़ा व्रत करती हैं | इस व्रत में माता लक्ष्मी का ही वर लक्ष्मी (Var Lakshmi Mata) के रूप में पूजन होता है | यह व्रत इस बार 9 अगस्त, 2019 के दिन किया जायेगा | यह व्रत करने से स्त्रियों को पति …

वरलक्ष्मी व्रत से मिलगा धन, यश और सम्मान Read More »

जानिए यमुनोत्री मन्दिर का धार्मिक महत्व

यमुनोत्री धाम (Yamunotri Mandir) चार धामों में से एक हिमालय की पर्वत श्रृंखला पर स्थित है | चार धाम की यात्रा इसी धाम से शुरू होती है | यही चार धामों में से पहला धाम है | यमुनोत्री धाम (Yamunotri Mandir) का स्त्रोत जमी हुयी बर्फ की एक झील और चंपासर ग्लेशियर है | यह …

जानिए यमुनोत्री मन्दिर का धार्मिक महत्व Read More »