May 2019

बुद्ध पूर्णिमा | बुद्ध का विष्णु जी से क्या सम्बन्ध है ?

वैसाख मास की पूर्णिमा का दिन बुद्ध पूर्णिमा (Budh Purnima 2019) के नाम से मनाया जाता है और उस दिन को वैसाख पूर्णिमा भी कहा जाता है | इस दिन का हिंदू धर्म के साथ साथ बौद्ध धर्म में भी बड़ा महत्व है | बौद्ध धर्म में माना जाता है की इसी दिन भगवान बुद्ध […]

बुद्ध पूर्णिमा | बुद्ध का विष्णु जी से क्या सम्बन्ध है ? Read More »

छिन्नमस्तिका जयंती व्रत से सभी दुःख दूर होंगे

आने वाली तारिक 17 मई, 2019 को छिन्नमस्तिका जयंती (Chinnamasta Jayanti 2019) मनाई जायेगी | सभी दस महाविद्याओं में से छठी महाविद्या हैं छिन्नमस्तिका माता | छिन्नमस्ता मतलब छिन्न मस्तक वाली देवी | इन महाविद्या का सम्बंध महाप्रलय से है | इससे सम्बन्धित एक कथा के अनुसार, बहुत समय पहले देवी पार्वती अपनी सहचरी जया

छिन्नमस्तिका जयंती व्रत से सभी दुःख दूर होंगे Read More »

रुक्मिणी द्वादशी क्यों मनाई जाती है ?

16 मई, 2019 के दिन रुक्मिणी द्वादशी (Rukmini Dwadashi 2019) मनाई जायेगी | रुक्मिणी द्वादशी हर वैशाख माह की द्वादशी को मनाई जाती है | शास्त्रों के मुताबिक रुक्मिणी को लक्ष्मी जी का अवतार माना गया है | मान्यता के अनुसार श्री कृष्ण ने रुक्मिणी का हरण कर उनसे विवाह किया था | और जिस

रुक्मिणी द्वादशी क्यों मनाई जाती है ? Read More »

मोहिनी एकादशी पूजा विधि और व्रत कथा

वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को मोहिनी एकादशी (Mohini Ekadashi 2019) कहा जाता है | इस बार यह एकादशी 15 मई 2019 के दिन मनाई जायेगी | इस दिन वैवाहिक रस्में और शुभ कार्य किये जाते हैं | इस दिन पूजा करने से सभी दुःख दूर होते हैं और साथ ही किये हुए

मोहिनी एकादशी पूजा विधि और व्रत कथा Read More »

किस दिन है सीता नवमी, क्या है पूजन विधि ?

लक्ष्मी का अवतार कहे जाने वाली माता सीता का विवाह अयोध्या के राजा रदशरथ पुत्र श्री राम से हुआ था | यह तो हम सब जानते ही हैं | इस महीने की 13 मई को सीता नवमी (Sita Navmi 2019) है | पर क्या आपको पता है की माता सीता के जन्म के बारे में

किस दिन है सीता नवमी, क्या है पूजन विधि ? Read More »

नक्षत्र क्या है, यह कितने प्रकार के होते हैं ?

हमारे आकाशमंडल में स्थित कुछ खास तारों के समूह को नक्षत्र (Nakshatra) कहा जाता है | नक्षत्र कुल 27 प्रकार के होते हैं, और उन सभी 27 नक्षत्रों के नाम निम्न है – 1.आश्विन, 2.भरणी, 3.कृतिका, 4.रोहिणी, 5.मृगशिरा, 6.आर्द्रा 7.पुनर्वसु, 8.पुष्य, 9.आश्लेषा, 10.मघा, 11.पूर्वा फाल्गुनी, 12.उत्तरा फाल्गुनी, 13.हस्त, 14.चित्रा, 15.स्वाति, 16.विशाखा, 17.अनुराधा, 18.ज्येष्ठा, 19.मूल, 20.पूर्वाषाढ़ा,

नक्षत्र क्या है, यह कितने प्रकार के होते हैं ? Read More »

नए वस्त्र धारण करने के मुहूर्त

आज कल हर कोई चाहता है की वह कोई भी शुभ कार्य करे तो सही वक्त पर करे | हर कोई,  किसी भी शुभ कार्य करने से पूर्व मुहूर्त ज़रूर देखता है | तो आपको बता दें की ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आप यह भी पता लगा सकते हैं की आपके लिए नए वस्त्र (new

नए वस्त्र धारण करने के मुहूर्त Read More »

9 ग्रह और उनका जीवन पर प्रभाव

नवग्रह कहे जाने वाले 9 ग्रह वैदिक ज्योतिष में बड़ा महत्व रखते हैं | इसमें सूर्य, चन्द्रमा के अलावा मंगल, बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि और राहु-केतु शामिल हैं | इनमें से राहू-केतु को छाया ग्रह (Planets) माना जाता है | आपको बता दूं कि इन सभी ग्रहों की प्रकृति एक-दूसरे से भिन्न होती है। कुछ

9 ग्रह और उनका जीवन पर प्रभाव Read More »