होली 2024: कब है होली और होलिका दहन, जानें मुहूर्त एवं महत्व

होली 2024: कब है होली और होलिका दहन, जानें मुहूर्त एवं महत्व

होली 2024, भारतीय सांस्कृतिक और धार्मिक त्योहारों में से एक है, जो रंगों के खेल के साथ मनाया जाता है। यह त्योहार फाल्गुन मास के पूर्णिमा को होता है और इस साल होली 2024 का आयोजन 8 मार्च को होगा। इस त्योहार के मुहूर्त, होलीका दहन के महत्व, और इसका सांस्कृतिक महत्व हैं, जिन्हें हम इस ब्लॉग में विस्तार से जानेंगे।

तारीख और मुहूर्त: होली 2024

होली, जिसे रंगों का त्योहार भी कहा जाता है, प्रतिवर्ष भारत भर में खूब धूमधाम से मनाया जाता है। इस साल होली 8 मार्च को है, जो फाल्गुन मास की पूर्णिमा के दिन आता है। होलीका दहन, जो होली से पहले होता है, इस बार 7 मार्च को मनाया जाएगा।

तारीख और मुहूर्त: होली 2024
तारीख और मुहूर्त: होली 2024

होलीका 2024 दहन मुहूर्त

होलीका दहन का मुहूर्त विभिन्न क्षेत्रों में अलग-अलग हो सकता है। इसे सही समय में करना महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे हिरण्यकश्यप की बहन होलिका के साथ प्रह्लाद का प्रहार संभव हुआ था। लोग इस मुहूर्त में होलिका दहन के लिए एकत्र होते हैं और उसे जलाते हैं। इस साल होलिका दहन का मुहूर्त शाम 6 बजे से 8 बजे तक होगा।

होली 2024 का खास मुहूर्त

होली का खास मुहूर्त भी त्योहार के अद्वितीय अंश में होता है। होली त्योहार का आरंभ रात 10 बजे से होता है और दो दिन चलता है। इस दौरान लोग रंगों के साथ नाचते हैं, मिठाईयों का स्वाद लेते हैं, और एक-दूसरे के साथ खेतों में रंग-बिरंगे खेलते हैं।

होलीका दहन का महत्व

होलीका दहन का महत्व होली के पूर्व दिन को माना जाता है, और इसके पीछे एक रोचक कथा है। हिरण्यकश्यप की बहन होलिका वह राक्षस थी जो अग्नि में अपनी रक्षा के लिए असीम शक्ति प्राप्त करने वाली थी। हिरण्यकश्यप ने अपने बेटे प्रह्लाद को मारने का प्रयास किया, लेकिन प्रह्लाद को भगवान की कृपा मिली और होलिका ने अंगीठी के लिए बनी चिराग में जा कर आत्मा से जलकर मर गई।

इस कथा से होलीका दहन का पर्व उत्पन्न हुआ, जिसे लोग समर्पित भावना के साथ मनाते हैं। होलिका दहन का संदेश है कि हमें भगवान की भक्ति में निरंतर रहना चाहिए और अधर्म के प्रति हमें सदैव सतर्क रहना चाहिए। यह त्योहार असत्य और अधर्म के खिलाफ खड़ा होने का संकेत है और धरती को सत्य और धर्म की ओर बढ़ने के लिए प्रेरित करता है।

होलीका दहन का महत्व
होलीका दहन का महत्व

होली का सांस्कृतिक महत्व

होली, भारतीय सांस्कृतिक मेले का हिस्सा है जो आत्मीयता, प्यार, और उत्साह की भावना से भरा हुआ है। इसे विभिन्न नामों से जाना जाता है जैसे हुताशन, कामदा, वसंतोत्सव, फागुआ, और दोल यात्रा। होली का त्योहार विभिन्न राज्यों और समुदायों में अलग-अलग रूपों में मनाया जाता है, लेकिन इसका सामान्य उद्दीपन रंगों के खेल से होता है।

2024 होली का उत्साह

यह होली का उत्साह भारतीय समाज में अद्भुत है। इस त्योहार के आगे सभी वर्गों और आयु समृद्धि के लोग एक हो जाते हैं। रंग-बिरंगे रंगों के साथ भरी इस धूमधाम से भरी पर्व में लोग खुशी और प्रेम की भावना से जूझते हैं।

होली के गीत और नृत्य

होली के त्योहार पर बने गीत और शेर इसे और भी रोचक बनाते हैं। लोग इस दिन खुशियों के साथ नाचते हैं और होली के गीतों का आनंद लेते हैं। रंग-बिरंगे कपड़ों में सजे लोग गाते हैं और नृत्य करते हैं, जिससे त्योहार का आत्मविश्वास और रोमांटिक सूचना बढ़ती है।

होली के गीत और नृत्य
2024 होली के गीत और नृत्य

2024 होली की शुभकामनाएं

होली के दिन लोग एक-दूसरे को रंग लगाकर और गुलाल चढ़ाकर खुशियों की शुभकामनाएं देते हैं। यह एक दूसरे के साथ मिलकर खुश होने और प्यार बढ़ाने का एक शानदार मौका है।

होलिका दहन और होली का अंतरराष्ट्रीय पहचान

होली अब विश्वभर में मनाया जाने वाला एक अंतरराष्ट्रीय त्योहार है। विभिन्न देशों में भी लोग रंगों के साथ एक-दूसरे के साथ मिलकर इसे धूमधाम से मनाते हैं। यह एक विशेष रूप से भारतीय दिवस समृद्धि को बढ़ावा देने का एक अवसर है जब दुनिया भर के लोग एक साथ मिलकर रंग-बिरंगे खेलते हैं और भारतीय संस्कृति को समझते हैं।

समाप्ति

होली, जिसे “रंगों का त्योहार” कहा जाता है, भारतीय समाज में खूब उत्साह और खुशी के साथ मनाया जाता है। होली 2024 में, इसे और भी रंगीन और धूमधाम से मनाने का आशीर्वाद बने! रंगों के इस खेल में हम अपने जीवन को रंगीन बनाने का उत्साह और साहस प्राप्त करते हैं, और यह सभी को एक-दूसरे के साथ मिलकर प्यार और एकता की भावना से भर देता है।

शुभ फल पाने के लिए अपनी जन्म कुंडली अनुसार पूजा करवाए। यह बहुत ही लाभदायक साबित हो सकता है और आपका भाग्या पूरी तरह बदल सकता है। अगर पूरे विधि विधान के साथ किसी विश्व प्रसिद्ध ज्योतिष आचार्य  और वास्तुशास्त्र की मदद से कुंडली अनुसार पहना जाए तो। आप किसका इंतज़ार कर रहे है, अपने पूजा को और भी लाभदायक बनाने के लिए अभी संपर्क करे इस (+91)9971-000-226 पर।

Leave a Comment