मनी प्लांट लगाने के लिए ज्योतिषी ने बताई सबसे अच्छी दिशा

मनी प्लांट लगाने के लिए ज्योतिषी ने बताई सबसे अच्छी दिशा

मनी प्लांट: वास्तुशास्त्र और ज्योतिष विज्ञान भारतीय सांस्कृतिक धारोहर में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। मनी प्लांट जैसे पौधों को घर में लगाने का प्राचीन परंपरागत अभ्यास भी है, जिसमें ज्योतिषीय दिशा और वास्तुशास्त्र का महत्वपूर्ण योगदान होता है। इस ब्लॉग में, हम जानेंगे कि मनी प्लांट को लगाने के लिए ज्योतिषी ने कौन-कौन सी दिशाएं सुझाई हैं।

मनी प्लांट का महत्व

जिसे कई लोग “पैसा पौधा” भी कहते हैं, एक लक्ष्मी के रूप में पूजा जाता है और इसे घर में लगाने से धन और समृद्धि की वर्षा होती है, इस विशेष विश्वास पर आधारित है। यह पौधा सुलेमानिया से लिया जाता है और इसकी कोई खास देखभाल भी नहीं चाहिए। लोग मानते हैं कि मनी प्लांट को सही दिशा में लगाने से इसकी शक्ति और प्रभावशीलता बढ़ती है।

मनी प्लांट का महत्व
महत्व

ज्योतिषीय सुझाव: मनी प्लांट

मनी प्लांट की सही दिशा

  • पूरब दिशा (ईस्ट): ज्योतिषी यह सुझाव देते हैं कि मनी प्लांट को ईस्ट दिशा में लगाना शुभ होता है क्योंकि ईस्ट धरती से सूर्योदय होता है और सूर्य की शक्ति से मनी प्लांट को लाभ होता है।
  • नॉर्थ दिशा (उत्तर): उत्तर दिशा भी एक अच्छी विकल्प है क्योंकि इसमें धरती को सबसे अधिक ऊर्जा मिलती है। मनी प्लांट को नॉर्थ दिशा में लगाकर सुनिश्चित किया जा सकता है कि वह धन और समृद्धि की ऊर्जा को अपने पास आकर्षित करता है।

स्थान का महत्व

  • पूजा स्थल (देवी स्थान): यहां मनी प्लांट को रखने से घर में शांति और समृद्धि बनी रहती है, और यह आपके जीवन में सकारात्मक परिवर्तन ला सकता है।
  • धन वृद्धि क्षेत्र (धन क्षेत्र): प्लांट को धन क्षेत्र में रखने से आपके घर में धन वृद्धि होती है और आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
ज्योतिषीय सुझाव: मनी प्लांट
ज्योतिषीय सुझाव

वास्तुशास्त्र की दृष्टि से

सही स्थान का चयन : मनी प्लांट

  • कमरे की पूर्व दिशा (ईस्ट): ज्योतिषीय दृष्टि से भी प्लांट को ईस्ट दिशा में रखना उत्तम है क्योंकि सूर्य की ऊर्जा से यह पौधा अपनी सारी शक्ति प्राप्त कर सकता है।
  • कमरे की उत्तर दिशा (नॉर्थ): यदि ईस्ट दिशा में स्थान नहीं हो, तो नॉर्थ दिशा भी एक शुभ स्थान है। यह आपके लिए धन और समृद्धि की ऊर्जा को आकर्षित कर सकता है।

सावधानियां और सुझाव

  • पौधा की सेहत का ध्यान रखें: प्लांट की सेहत को बनाए रखने के लिए आपको नियमित रूप से इसकी देखभाल करनी चाहिए, जैसे कि प्राकृतिक रूप से होने वाली प्रक्रियाएँ और नियमित पानी देना।
  • पौधा बदलने का समय: ज्योतिषी सुझाव देते हैं कि प्लांट को एक स्थान से दूसरे स्थान में बदलना भी शुभ हो सकता है, लेकिन इसे विशेष मुहूर्त पर करना चाहिए।
वास्तुशास्त्र की दृष्टि से
वास्तुशास्त्र की दृष्टि से

समापन

प्लांट को अपने घर में लगाने से पहले, ज्योतिषी और वास्तुशास्त्र के सुझावों को ध्यानपूर्वक सुनना एक शुभ विचार हो सकता है। यह न केवल एक सुंदर सजावट होती है, बल्कि मान्यता है कि इससे घर में धन और समृद्धि की ऊर्जा बनी रहती है। हमेशा याद रहना चाहिए कि यह ज्योतिषीय सुझाव केवल एक आधार हैं और इन्हें मात्र एक दृष्टिकोण के रूप में ही लेना चाहिए।

शुभ फल पाने के लिए अपनी जन्म कुंडली अनुसार वास्तु एवं पूजा करवाए। यह बहुत ही लाभदायक साबित हो सकता है और आपका भाग्या पूरी तरह बदल सकता है। अगर पूरे विधि विधान के साथ किसी विश्व प्रसिद्ध ज्योतिष आचार्य  और वास्तुशास्त्र की मदद से कुंडली अनुसार पहना जाए तो। आप किसका इंतज़ार कर रहे है, अपने पूजा को और भी लाभदायक बनाने के लिए अभी संपर्क करे इस (+91)9971-000-226 पर।

Leave a Comment