top astrologer in gurgaon

शत्रु से मुक्ति पाने के लिए होलाष्टक उपाय

हर व्यक्ति की जिंदगी में कोई ना कोई शत्रु जरूर होता है। कोई शत्रु प्रत्यक्ष रूप से परेशान करता है तो कोई अप्रत्यक्ष रूप से। हर व्यक्ति चाहता है कि उसे उसके शत्रु से छुटकारा मिले और शत्रु द्वारा उत्पन्न की गई परेशानी को नाकाम करें। इसके लिए वह बहुत मेहनत करता है लेकिन किन्हीं […]

शत्रु से मुक्ति पाने के लिए होलाष्टक उपाय Read More »

किस कारण होता है किन्नरों का जन्म

प्रकृति में नर नारी के अलावा एक अन्य वर्ग भी है| जो न तो पूरी तरह नर होता है और न नारी। इन लोगों को हम किन्नर या हिजड़ा कहते हैं। आज के समय में इन्हें थर्ड जेंडर की संज्ञा मिली है। वैसे प्राचीन काल से इनका अस्तित्व रहा है। पुराने ग्रन्थों जैसे महाभारत में

किस कारण होता है किन्नरों का जन्म Read More »

क्या हैं गठिया रोग के उपाय

” पहला सुख निरोगी काया” देखा जाय तो प्रतिस्पर्धा के इस युग में व्यक्ति अपने कर्म पर अधिक ध्यान देने लगा है और भौतिक जीवन में सुखमय रहना चाहता है,  जिससे उसकी दिनचर्या प्रभावित भी होती है। खानपान में अनियमितता के कारण किसी रोग का प्रकोप हो जाता है। ज्योतिषाचार्य इंदु प्रकाश जी कहते हैं कि

क्या हैं गठिया रोग के उपाय Read More »

कैसे बनाएँ दांपत्य जीवन को सुगम

भारतीय पौराणिक कथाओं के अनुसार चंद्र देव को सभी पूजनीय देवताओं में से एक मुख्य स्थान प्राप्त है। चन्द्रमा को जल तत्व का देव भी कहा जाता है। चंद्र ‘नवग्रह’ का एक महत्वपूर्ण ग्रह भी है, जो पृथ्वी पर रह रहे जीवात्मा को अपने बल से प्रभावित बनाये रखता है। चंद्रमा को अनुकूल ग्रह माना

कैसे बनाएँ दांपत्य जीवन को सुगम Read More »

भुत प्रेत की समस्या से पाएं छुटकारा

भारतीय अखंड ज्योतिषशास्त्र के अनुसार हर माह के कॄष्ण पक्ष की अंतिम तिथि को अमावस्या तिथि का उद्गमन होता है | इस दिन प्रेत आत्माएं अधिक प्रभावशील रहती है इसीलिए चतुर्दशी और अमावस्या के दिन बुरे कार्य तथा नकारात्मक विचार से दूरी बनाए रखने में व्यक्ति को सुख का अनुभव होता है। खासकर इस दिन

भुत प्रेत की समस्या से पाएं छुटकारा Read More »

जानिये विजया एकादशी व्रत का मह्त्व

पौराणिक कथाओं के अनुसार एकादशी का बड़ा महत्‍व है। इस बार मार्च महीने की 2 तारीख यानि फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी जो कि विजया एकादशी के नाम से जानी जाति है। इस व्रत के प्रभाव से मनुष्‍य को विजय प्राप्त‍ होती है। यह सब व्रतों से उत्तम व्रत है। इस विजया एकादशी

जानिये विजया एकादशी व्रत का मह्त्व Read More »

भुत प्रेत का साया या बनते काम में अड़चन, पहने ये रत्न

ज्‍योतिष शास्‍त्र में गोमेद रत्न को राहू का रत्‍न माना जाता है। यह रत्न राहू के दोष को दूर करने के लिए जाना जाता है | यूँ तो राहू अशुभ हे माना जाता है | किन्तु केंद्र में स्थित राहू को गोमेद के धारण करने से अनुकूल बना दें तो धन सम्पदा आदि का लाभ होता है

भुत प्रेत का साया या बनते काम में अड़चन, पहने ये रत्न Read More »

13 मुखी रुद्राक्ष आपको दीलायेगा धन और सौंदर्य

रुद्राक्ष शिव का प्रत्यक्ष अंश माना जाता है | पुराणों की मानें तो रुद्राक्ष शिव जी के आंसुओं से बने हैं| रुद्राक्ष धारण करने के कईं नियम हैं जिसके अनुसार हे आपको रुद्राक्ष धारण करना होता है | अलग अलग प्रकार के रुद्राक्ष होने के साथ साथ उनका असर भी अलग अलग होता है |

13 मुखी रुद्राक्ष आपको दीलायेगा धन और सौंदर्य Read More »

गणपति जी के ये मंत्र बदलेंगे आपकी किस्मत

हिंदू धर्म में भगवन श्री गणेश को परम पूज्य माना जाता है | मतलब किसी भी शुभ कार्य से पहले श्री गणेश की पूजा होती है, तभी वह कार्य शुरू होता है | श्री गणेश को बल, बूद्धि और विवेक का देवता माना जाता है | साथ ही साथ इन्हें विघ्नहर्ता भी कहा जाता है

गणपति जी के ये मंत्र बदलेंगे आपकी किस्मत Read More »

अगर नहीं टिकता है पैसा तो करें ये

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार आप कईं उपाय कर सकते हैं जिससे आपकी आर्थिक हालात सुधर सकते हैं| आपके कुंडली के गृह जैसी और कईं चीजें आपकी आर्थिक कमजोरी का कारण होते हैं | ऐसा हमेशा होता है की आपको लगे आपके पास पैसा नहीं टिकता है | या ऐसा लगे की आपके पास पैसा रहे तो

अगर नहीं टिकता है पैसा तो करें ये Read More »