April 2018

चातुर्मास में नहीं होंगे शुभ कार्य

आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवशयनी एकादशी होती है । देवशयनी एकादशी को हरिशयनी, पद्मनाभा तथा प्रबोधनी के नाम से भी जाना जाता है । भविष्य पुराण, पद्म पुराण तथा श्रीमद्भागवत पुराण के अनुसार हरिशयन को योगनिद्रा एकादशी भी कहा गया है । इसी दिन से चातुर्मास का आरंभ माना गया है …

चातुर्मास में नहीं होंगे शुभ कार्य Read More »

बगलामुखी जंयती पर शत्रुओं से छुटकारा पाने के लिए

बगलामुखी जंयती आज वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि है। आज के दिन देवी बगलामुखी का अवतरण दिवस माना जाता है। देवी बगलामुखी दस महाविद्याओं में से एक हैं। इनकी उत्पत्ति सौराष्ट्र के हरिद्रा नामक सरोवर से मानी जाती है। मां बगलामुखी को शत्रुनाश की देवी कहा जाता है। इनकी नजरों से कोई …

बगलामुखी जंयती पर शत्रुओं से छुटकारा पाने के लिए Read More »

Things to avoid in a home- Vastu Astrology Science

Vastu Shastra, which actually means “Science of architecture”, is an ancient Indian theory of engineering. It relies upon the five basic forces of nature-the sun, wind, water, earth and space and the diverse energies that begins from them. By following the principle of Vastu, these energies can be balanced and acclimated to upgrade peace and …

Things to avoid in a home- Vastu Astrology Science Read More »

कैसे प्रश्न कुंडली की सहायता से जान सकते हैं अपने सवालों का जवाब।

श्न ज्योतिष, ज्योतिष कि वह कला है जिससे आप अपने मन की कार्यसिद्धि को जान सकते है। कोई घटना घटित होगी या नहीं, यह जानने के लिए प्रश्न लग्न देखा जाता है। प्रश्न ज्योतिष मै उदित लगन के विषय में कहा जाता है कि लग्न मे उदित राशि के अंश अपना विशेष महत्व रखते है। प्रश्न ज्योतिष …

कैसे प्रश्न कुंडली की सहायता से जान सकते हैं अपने सवालों का जवाब। Read More »

जाने क्या है ज्योतिष शास्त्र और कैसे करता है यह आपके जीवन को प्रभावित।

प्राचीन वैदिक काल से चली आ रही अखंड भारतीय ज्योतिषशास्त्र विद्या पूरे विश्व भू धरोवर मे आगे बढ़ती जा रही भारतीय अखंड वैदिक ज्योतिष विध्या वर्तमान समय में हर व्यक्ति से परिचित व हृदयों में विश्वास बनाये बैठी है ऐसी यह अखंड ज्योतिष विद्या समुद्र की गहराइयों से भी बढ़ कर एक मिशाल की तरह …

जाने क्या है ज्योतिष शास्त्र और कैसे करता है यह आपके जीवन को प्रभावित। Read More »

जानिए आपकी जन्मकुंडली का आपके भाग्य से क्या संबंध है।

इस चारचर जगत में मनुष्य अपने को श्रेष्ठ बनने के लिए अनेकों कठिन से कठिन मेहनत करने में कसर नहीं छोड़ता पर भाग्य यदि कमजोर हो तो वह सारी मेहनत असफल साबित हो जाती है इस लिए कर्म के साथ भाग्य भी अपने स्थान पर एक महत्व पूर्ण स्थान बनाए रखा हुआ है। मानव जीवन …

जानिए आपकी जन्मकुंडली का आपके भाग्य से क्या संबंध है। Read More »

जानिए ज्योतिषशास्त्र के द्वारा कैंसर जैसे घातक रोग कैसे करें दूर।

प्राचीन भारतीय अखंड ज्योतिष दर्शन में व्यक्ति के हर सुख दुख को ज्योतिष अपने अन्दर सदैव समेटे रखता है और अपने ग्रहों के अनुसार व महादशा या अंतरदशाओं से व्यक्ति को प्रभावित व शुभ-अशुभ फलदेने में सक्षम रहता है और फल को प्रदान करता है  फिर भी व्यक्ति मन में चल रहे हर भौतिक सुख …

जानिए ज्योतिषशास्त्र के द्वारा कैंसर जैसे घातक रोग कैसे करें दूर। Read More »

सत्य कि जीत में डुबो देने वाली होली पर्व का महत्वा।

अखंड भारत वर्ष में होली का त्यौहार अपनी सांस्कृतिक और पारम्परिक मान्यताओं की वजह से प्रसिद्ध व बड़े हर्षो-उल्लास के साथ मनाया जाता है। होली त्यौहार का उल्लेख धार्मिक व पौराणिक पवित्र पुस्तकों में प्रमाणित रूप वर्णित मिलता है। चारों ओर बिखरता संगीत ढोल और नागाडो पर थिरकते हुये पैर रंगों से सराबोर और रंगो …

सत्य कि जीत में डुबो देने वाली होली पर्व का महत्वा। Read More »

जानिये व्यक्ति को कैसे डुबो देता है जन्मकुंडली में बना गुरु चांडाल योग

भारतीय ज्योतिषशास्त्र के अनुसार जन्मकुंडली में अनेकों शुभ-अशुभ योग निर्मित रूप से मानव जीवन पर सदैव अपने प्रभावों से जोड़े रखते हैं और समायानुसार मानवता की स्थितियों को प्रभावित करते रहते हैं |  बात करते है आज जन्मकुंडली बन रहे चांडाल योग की – जन्मकुंडली में चांडाल योग राहु और गुरु के युक्त या दृष्टि संबंध से …

जानिये व्यक्ति को कैसे डुबो देता है जन्मकुंडली में बना गुरु चांडाल योग Read More »