वास्तु टिप्स: घर में लगाएं ये चार पेड़, आएगी बरकत और समृद्धि

वास्तु टिप्स: घर में लगाएं ये चार पेड़, आएगी बरकत और समृद्धि

वास्तु टिप्स: वास्तु शास्त्र एक प्राचीन भारतीय वास्तुशिल्प विज्ञान है जो सकारात्मक ऊर्जा की दिशा में समृद्धि और कल्याण के लिए समाहित आवासीय स्थलों का निर्माण करने का बल देता है। इसका एक पहलु वास्तु के विशेषज्ञों द्वारा आशीर्वाद, समृद्धि और प्रचुरता को बढ़ाने के लिए घर के परिसर में मनोहारी पेड़ लगाना है। यहां वास्तु शास्त्र के एक्सपर्ट्स द्वारा सुझाए गए चार पेड़ों के बारे में जानकारी दी गई है जो आपके घर में समृद्धि और प्रचुरता को बढ़ाने में सहायक हैं।

वास्तुशास्त्र में पेड़ों का बहुत महत्व है। घर में सही पेड़ लगाने से न केवल वातावरण की शुद्धता बनी रहती है बल्कि उससे घर की ऊर्जा में भी सुधार होता है। इस ब्लॉग में, हम जानेंगे कि कौन-कौन से पेड़ घर में लगाने से हमें बरकत और समृद्धि मिल सकती है।

प्लांट: वास्तु टिप्स
प्लांट: वास्तु टिप्स

प्लांट: वास्तु टिप्स

हर तरह के पौधे घर के लिए शुभ नहीं माने जाते हैं, लेकिन कुछ पौधे ऐसे भी होते हैं जिन्हें घर में लगाने से घर में हमेशा सकारात्मकता बनी रहती है और सुख-समृद्धि आती है। आइए जानते हैं कौन से हैं वो पौधे.

सनातन धर्म में प्राचीन काल से ही प्रकृति और पेड़-पौधे पूजनीय रहे हैं। क्योंकि कहा जाता है कि पेड़-पौधों में देवताओं का वास होता है। वास्तु शास्त्र में पेड़ों को भी विशेष महत्व दिया गया है। कहते हैं घर में एक खास तरह का पौधा लगाना शुभता और सकारात्मकता का प्रतीक माना जाता है, लेकिन सभी पौधे घर में बरकत नहीं लाते. तो आइए जानते हैं कौन से हैं वो पौधे, जो घर में लाते हैं सुख-समृद्धि।

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को सबसे पवित्र माना जाता है इसलिए तुलसी को मां का दर्जा प्राप्त है। वास्तु के अनुसार यह भी कहा जाता है कि इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ता है। तुलसी के पत्तों का उपयोग पूजा में भी किया जाता है। तुलसी को घर के आंगन या मुख्य दरवाजे के पास रखना शुभ माना जाता है।

प्लांट: वास्तु टिप्स
प्लांट: वास्तु टिप्स

अशोक वृक्ष

अशोक का पेड़ शांति और समृद्धि का प्रतीक है। वास्तु कहता है कि इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है और मन शांत रहता है। अशोक के पेड़ के नीचे बैठकर ध्यान करने से मानसिक तनाव कम होता है। वास्तु के अनुसार अशोक का पेड़ घर के मुख्य द्वार के पास या बगीचे में लगाया जा सकता है।

शमी वृक्ष: वास्तु टिप्स

धन और वैभव का प्रतीक है. इससे घर में धन की वृद्धि होती है और कुबेर देवता की कृपा प्राप्त होती है। शमी के पत्तों का उपयोग पूजा-पाठ में भी किया जाता है। यह भी कहा जाता है कि घर में शमी का पेड़ लगाने से शनि का प्रकोप कम होता है। वास्तु के अनुसार शमी का पेड़ घर के मुख्य दरवाजे के पास रखना शुभ होता है।

शमी वृक्ष: वास्तु टिप्स
शमी वृक्ष: वास्तु टिप्स

बेल पत्र का पेड़

धार्मिक दृष्टि से भी इसे बहुत शुभ माना जाता है, क्योंकि बेल का पेड़ भगवान शिव को प्रिय है। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है। बेल के फल का उपयोग पूजा-पाठ में भी किया जाता है। बेल के पेड़ के नीचे बैठकर ध्यान करने से रोगों से मुक्ति मिलती है। वास्तु के अनुसार बेल का पेड़ घर के आंगन या छत पर लगाया जा सकता है।

नीम पेड़

नीम पेड़ को भारतीय संस्कृति में बहुत महत्व दिया गया है। नीम का पेड़ रोग प्रतिरोधक गुणों से भरपूर होता है और इसे आयुर्वेद में ‘सर्वरोगनिवारिणी’ कहा गया है। नीम की पत्तियों में एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, और एंटीवायरल गुण होते हैं जो कि विभिन्न रोगों के इलाज में मदद करते हैं। नीम का पेड़ घर की स्वच्छता और ह्याज़ीन रखने में भी सहायक होता है। नीम के पेड़ को घर के पास लगाने से घर में शांति, सुख, और समृद्धि की ऊर्जा बनी रहती है।

वास्तु टिप्स: नीम के उपयोग

  • नीम की पत्तियां अस्थमा, खांसी, बुखार, और चर्म रोगों में लाभकारी होती हैं।
  • नीम के पेड़ को घर के उत्तर या पूर्व दिशा में लगाने से घर की स्थिति में सुधार होता है।
  • पेड़ को घर के सामने लगाने से घर में सामंजस्य, समृद्धि, और सुख आते हैं।

तुलसी पेड़

तुलसी पेड़ को हिन्दू धर्म में पवित्र माना जाता है। तुलसी के पेड़ के पत्ते में कई औषधीय गुण होते हैं जैसे कि विषारक, काफ नाशक, और विशेष प्रकार के वायु नियंत्रक। इसे घर में लगाने से घर की सुरक्षा, सुख-शांति, और समृद्धि में वृद्धि होती है। तुलसी पूजा करने से घर में सकारात्मकता और ऊर्जा का संचार होता है।

वास्तु टिप्स: तुलसी के उपयोग

  • तुलसी की पत्तियां बुखार, खांसी, और श्वास रोगों में लाभकारी होती हैं।
  • तुलसी के पेड़ को घर के पास लगाने से परिवार के सदस्यों के बीच में सद्भाव और आपसी सम्बन्ध मजबूत होते हैं।
  • पेड़ को घर के उत्तर-पूर्व
तुलसी पेड़
तुलसी पेड़

इन बातों का रखें ध्यान

  • पेड़ को हमेशा पूर्व या उत्तर दिशा में लगाना चाहिए।
  • तुलसी पेड़ को घर की दीवार से थोड़ी दूरी पर लगाना चाहिए।
  • पेड़ को नियमित रूप से पानी देना चाहिए और उसकी देखभाल करनी चाहिए।
  • सूखी या मुरझाई हुई पत्तियों को तुरंत हटा देना चाहिए।

तो इस तरह आप अपने घर में सुख-समृद्धि के लिए उपरोक्त पौधे लगा सकते हैं। हालांकि इन पौधों को लगाने से पहले एक बार किसी ज्योतिषी से सलाह जरूर ले लें।

निष्कर्ष

इस ब्लॉग में हमने देखा कि वास्तु शास्त्र में पेड़ों का कितना महत्व है। सही पेड़ लगाने से हमारे घर में बरकत, समृद्धि, और सुख की ऊर्जा बनी रहती है। विशेषकर, नीम और तुलसी जैसे पेड़ हमारे स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद हैं।

इसके साथ ही, यदि हम अच्छे ज्योतिषी के सुझावों का पालन करें, तो हमारे जीवन में और भी बहुत सी सारी बरकतें हो सकती हैं। यहां मैं आपको दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ज्योतिषाचार्य आचार्य इंदु प्रकाश जी के बारे में बताना चाहूंगा।

आचार्य इंदु प्रकाश जी ने अपने ज्ञान और अनुभव के माध्यम से लाखों लोगों को ज्योतिष और वास्तुशास्त्र में मार्गदर्शन किया है। उनकी सलाह और उपायों का प्रयोग करके लोगों ने अपने जीवन में सकारात्मक परिवर्तन देखा है।

आचार्य इंदु प्रकाश जी की विशेषता यह है कि वे विज्ञान और धार्मिकता को संतुलित ढंग से जोड़कर ज्योतिष और वास्तुशास्त्र के अद्वितीय गहराई में जा पहुंचे हैं। उनकी सलाह के बिना कोई भी निर्णय नहीं लेना चाहता।

इसलिए, अगर आप अपने घर में पेड़ लगाने के साथ-साथ अच्छे ज्योतिषी की सलाह और मार्गदर्शन की भी तलाश में हैं, तो आप आचार्य इंदु प्रकाश जी से संपर्क कर सकते हैं। उनके अनुभव और ज्ञान से आपके जीवन में नई रौशनी आ सकती है और आपकी सभी समस्याओं का समाधान हो सकता है।

शुभ फल पाने के लिए अपनी जन्म कुंडली अनुसार पूजा करवाए। यह बहुत ही लाभदायक साबित हो सकता है और आपका भाग्या पूरी तरह बदल सकता है। अगर पूरे विधि विधान के साथ किसी विश्व प्रसिद्ध ज्योतिष आचार्य  और वास्तुशास्त्र की मदद से कुंडली अनुसार पहना जाए तो। आप किसका इंतज़ार कर रहे है, अपने पूजा को और भी लाभदायक बनाने के लिए अभी संपर्क करे इस (+91)9971-000-226 पर।

Leave a Comment