ज्योतिष

मंगल यंत्र से कैसे मिलेगा आपको लाभ

हिंदू शास्त्रों में मंगल ग्रह (Mangal Yantra) को नवग्रहों में सबसे शक्तिशाली माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि जिस व्यक्ति की कुंडली में मंगल उच्च स्थान पर होता है, उस जातक को वह शुभ फल प्रदान करते है जैसे हर कार्य में सफलता प्राप्त होती है और समाज में मान सम्मान में वृद्धि […]

मंगल यंत्र से कैसे मिलेगा आपको लाभ Read More »

सुनेला रत्न के लाभ

पुखराज का उपरत्‍न सुनेला, पीले-भूरे रंग का होता है। इस रत्‍न की चमक उगते सूरज के समान होती है। वैदिक ज्‍योतिष के अनुसार सुनेला रत्‍न गुरु ग्रह से संबंधित होता है। इसे पहनने से गुरु से संबंधित दोष दूर होते हैं, मान-सम्‍मान की प्राप्‍ति होती है, निर्णय लेने की क्षमता का विकास होता है और

सुनेला रत्न के लाभ Read More »

क्या है आपकी समस्याओं का कारण

जन्मकुंडली के शुभ और अशुभ ग्रहों का प्रभाव हर जातक पर पड़ता है। कुंडली में स्थित ऐसे ग्रहों के कारण जातक को घर-परिवार में कलह (Grah Kalesh) होता रहता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्रमा के साथ शनि-राहु बैठ गया तो जातक पीड़ित हो जाता है। जिस कारण मन दुखी रहता है। ऐसे जातक में

क्या है आपकी समस्याओं का कारण Read More »

विवाह की समस्याओं को कैसे करें दूर

हर माता-पिता अपने पुत्र-पुत्री के लिए योग्य वर ढुंढना तो पहले से ही शुरु कर देते हैं। लेकिन विवाह (Marriage) के लिए शुभ समय, शुभ मुहूर्त का इंतजार करते हैं। उनका यह इंतजार उनकी चिंता बढ़ाता हैं। हर वो लड़की-लड़का जो अपने जीवन के सबसे सुनहरे पल का बेसबरी से इंतजार कर रहे होते है।

विवाह की समस्याओं को कैसे करें दूर Read More »

12 मुखी रुद्राक्ष से प्राप्त होती है सूर्य की कृपा

बारह मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha) भगवान महा विष्णु का स्वरुप माना गया है| बारह आदित्यों का तेज इस रुद्राक्ष में सम्माहित है इसलिए भगवान सूर्य देव की विशेष कृपा का भी पात्र है यह रुद्राक्ष| बारह मुखी रुद्राक्ष धारण करने मात्र से असाध्य व भयानक रोगों से मुक्ति मिलती है | ह्रदय रोग, उदार

12 मुखी रुद्राक्ष से प्राप्त होती है सूर्य की कृपा Read More »

इस दीपावली कैसे करें अपने घर में धन वर्षा

दिवाली (Diwali Dhan Varsha) एक ऐसा त्यौहार है जिसे सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया बढ़े हर्ष और भक्तिभाव से मनाया जाता है | यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतिक है | इस त्यौहार से हमें यह सीख मिलती है की अहंकार और बुराई कितनी ही बढ़ी क्यों ना हो

इस दीपावली कैसे करें अपने घर में धन वर्षा Read More »

क्या है माता महागौरी की कथा

हिन्दुओं के पवित्र पर्व नवरात्रि में आठवें दिन नवदुर्गा के महागौरी (Mahagauri) स्वरूप का पूजन किया जाता है। माता महागौरी राहु ग्रह पर अपना आधिपत्य रखती हैं। महागौरी शब्द का अर्थ है महान देवी गौरी। नवरात्र के आठवें दिन महागौरी (Mahagauri) की पूजा-अर्चना और स्थापना की जाती है। उत्पत्ति के समय महागौरी आठ वर्ष की

क्या है माता महागौरी की कथा Read More »

Memory_Chandra_Yantra

चंद्र यन्त्र से होंगे लाभ ही लाभ

चन्द्रमा (Moon) ज्योतिषशास्त्र के अनुसार मन का प्रतिनिधित्व करता है साथ ही यह सबसे तेज़ गति से चलने वाला ग्रह है | चंद्रमा मनुष्य के जीवन में भावनाएं (Emotions), मस्तिष्क, बुद्धिमता, स्वाभाव (Behavior), आत्मविश्वास (Self Confidence) आदि पर अपना आधिपत्य रखता है | जो मनुष्य इन समस्याओं का सामना कर रहे होते हैं उन्हें तुरंत

चंद्र यन्त्र से होंगे लाभ ही लाभ Read More »

kaise paye manchaha pyar

प्रेम प्राप्ति के उपाय

जीवन (Life) में प्रेम का बहुत महत्व होता है | सब कुछ होते हुए भी अगर प्रेम (love) ना हो तो जीवन व्यर्थ सा लगता है | मनुष्य एक सामाजिक जिव है और जीवन व्यतीत करने और अपना वंश आगे बढ़ाने के लिए सभी मनुष्यों को एक साथी (Life Partner) की ज़रूरत होती है |

प्रेम प्राप्ति के उपाय Read More »

आपके विवाह में विलम्भ क्यों हो रहा है ?

हिन्दू धर्म (Hindu) में शामिल सोलह संस्कारों में से एक है विवाह संस्कार (Marriage) | किसी के भी जीवन में विवाह सबसे बड़ा उत्सव होता हैं | इसमें अग्नि को साक्षी मान वर-वधु एक दुसरे का जीवन भर साथ निभाने का वचन देते हैं | हिन्दू धर्म में विवाह (Marriage) सिर्फ दो लोगों का नहीं

आपके विवाह में विलम्भ क्यों हो रहा है ? Read More »