bhavishyavani

इस दिन मिलता है भवन और वाहन का आशीर्वाद

नवरात्र (Navratri) यानि नौ विशेष रात्रियां | इन रात्रियों में आदिशक्ति के नौ रूपों का पूजन किया जाता है | नवरात्री के हर दिन एक अलग देवी की पूजा का विधान है | हर एक दिन एक देवी को समर्पित है, उनके निर्धारित दिन पर उनकी पूजा करने पर माता अत्यंत प्रसन्न होती हैं और […]

इस दिन मिलता है भवन और वाहन का आशीर्वाद Read More »

12 मुखी रुद्राक्ष धारण करने के लाभ

सूर्य (Sun) सारे ब्रह्मांड (Universe) का केंद्र है और ज्योतिषशास्त्र (Astrology) में कहा जाता है की सूर्य सभी 9 ग्रहों के स्वामी भी हैं | अगर आप पर सूर्य की कृपा हो तो व्यापार और नौकरी (Job) सम्बंधित समस्याओं से मुक्ति मिलती है और साथ ही समाज में मान सम्मान भी बढ़ता है | पर

12 मुखी रुद्राक्ष धारण करने के लाभ Read More »

दक्षिणावर्ति शंख क्यों है सबसे खास

हिन्दू धर्म में शंख की महत्वता कम नहीं हैं | शंख (Shankha) उन चुनिंदा सामग्रियों में शुमार है जो किसी भी पूजन में बहुत महत्वपूर्ण होते हैं | इसकी उत्पत्ति माता लक्ष्मी की तरह ही समुद्र से हुई थी इसीलिए इसे माता लक्ष्मी के भाई की उपाधि दी गयी है | काफी समय पहले राजा

दक्षिणावर्ति शंख क्यों है सबसे खास Read More »

मानसिक शांति आत्मविश्वास के लिए धारण करें चंद्र यंत्र

कुंडली (Horoscope) में चंद्र वह ग्रह है जो सबसे अधिक गति से चलता है | चंद्र हमारी कुंडली में बहुत महत्वपूर्ण स्थान रखता है और मन का कारक होता है | यह आपका मन (Mind) और भावनाएं (Emotions) के साथ ही मस्तिष्क ,बुद्धिमता (Intelligence) ,स्वभाव, रोगों, गर्भाशय इत्यादि दर्शाता है | अगर आपकी कुंडली में

मानसिक शांति आत्मविश्वास के लिए धारण करें चंद्र यंत्र Read More »

हर खतरे से बचाता है महा मृत्युंजय यंत्र

क्या आपकी तबियत (Health) ठीक नहीं रहती, क्या आप गंभीर रोग से पीड़ित हैं या आपको आपकी बीमारी का पता नहीं लग पा रहा है | अगर आप ऐसी समस्याओं से झुंझ रहे हैं तो आज ही ऑर्डर करें आचार्य इंदु प्रकाश जी (Acharya Indu Prakash Ji) की देख रेख में सिद्ध किया गया महा

हर खतरे से बचाता है महा मृत्युंजय यंत्र Read More »

पाँच मुखी रुद्राक्ष क्यों धारण किया जाता है ?

रुद्राक्ष भगवान शिव को अति प्रिय हैं | शिव जी ने रुद्राक्ष अपने अति प्रिय भक्तों के कल्याण के लिए बनाया है | मुख्यत: पंच मुखी रुद्राक्ष यानि पाँच मुखी रुद्राक्ष (5 Mukhi Rudraksha) में शिव जी (Shiv Ji) की सभी शक्तियाँ समाहित हैं | इस रुद्राक्ष का स्वामी गुरु (Jupiter) ग्रह होता है जिससे

पाँच मुखी रुद्राक्ष क्यों धारण किया जाता है ? Read More »

शिक्षा और एकाग्रता बढ़ाता है 4 मुखी रुद्राक्ष

भगवान शिव कल्याण करने वाले देवता हैं | माना जाता है की भगवान शिव को खुश करना ज़्यादा मुश्किल भी नहीं है, शिव जी बहुत भोले हैं और यह उन देवताओं में से हैं जो भक्तों से जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं | भगवान शिव हमेशा से चाहते रहे हैं की उनके भक्तों का कल्याण

शिक्षा और एकाग्रता बढ़ाता है 4 मुखी रुद्राक्ष Read More »

केतु के प्रकोप से बचें

वैसे तो केतु और राहू छाया ग्रह है, पर इनका प्रकोप काफी भयानक होता है | किन्तु ऐसा नही है की केतु ग्रह का प्रभाव हमेशा नकारात्मक हो, केतु ग्रह के प्रभाव सकारात्मक भी होते हैं | आध्यात्म, वैराग्य, मोक्ष, तांत्रिक आदि का कारक केतु होता है | कुंडली में केतु राहू से मिल कर

केतु के प्रकोप से बचें Read More »

घर में ऐसे रखें कछुआ, होंगे बहुत लाभ

कछुआ हिंदू ज्योतिष (Astrology) मान्यताओं में बहुत महत्व रखता है | बहुत समय पहले स्वयं भगवान विष्णु ने कछुआ का रूप धारण कर समुद्र मंथन के लिए मंद्रांचल पर्वत को अपने कवच पर रखा था | इसीलिए अपने घरों में कछुआ रखना बहुत शुभ माना जाता है | यहाँ तक की केवल हिन्दू ज्योतिष (Astrology) ही

घर में ऐसे रखें कछुआ, होंगे बहुत लाभ Read More »

जीवन के हर दुःख का उपाय सौभग्य पोटली

कभी कभी जीवन में लगता है की कुछ सही नहो हो रहा | जैसे की नसीब ने ही साथ छोड़ दिया हो | ना तो कभी पैसा टिकता है, बनते बनते काम बीच में ही अटक जाते हैं, कभी सफल नही हो पाते | इन सभी समस्याओं के निवारण के लिए हम आपके लिए लाये

जीवन के हर दुःख का उपाय सौभग्य पोटली Read More »