shree krishna

geeta

क्या है गीता जयंती का महत्व

भारतीय धर्म ग्रंथों के अनुसार मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष की एकादशी का दिन भागवत गीता (Bhagwat Geeta) जयंती के रूप में प्रति वर्ष मनाया जाता हैं। भागवत गीता का जन्म भगवान कृष्ण के मुख से कुरुक्षेत्र के मैदान में हुआ था। गीता में जीवन का सार हैं जिसे पढ़कर कलयुग में मनुष्य जाति को सही राह […]

क्या है गीता जयंती का महत्व Read More »

इतिहास के कुछ अमर दोस्तों की जोड़ी

दोस्ती  वह रिश्ता है जो कोई उम्र, जात, रंग, रिश्ता, धर्म नहीं देखता | इसे सिर्फ साफ़ दिल से निभाया जा सकता है, बिना किसी मोह के | हमारे पौराणिक कथाओं में बहुत सी कहानियाँ शामिल हैं जो ऐसे ही कुछ दोस्तों की मिसालें देती हैं | दोस्ती का नाम ज़बान पर आते ही यह

इतिहास के कुछ अमर दोस्तों की जोड़ी Read More »

कैसे मनाया जाता है जन्माष्टमी का त्यौहार

भगवान श्री कृष्ण के जन्म के उपलक्ष में मनाया जाने वाला त्यौहार जन्माष्टमी (Janmashtami 2019) बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है | यह त्यौहार हर भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दिन मनाया जाता है | इस बार यह त्यौहार 24 अगस्त के दिन मनाया जायेगा | इस दिन कईं मन्दिरों

कैसे मनाया जाता है जन्माष्टमी का त्यौहार Read More »

जगन्नाथ पूरी रथ यात्रा का क्या है महत्व ?

उड़ीसा के पूर्वी तट पर स्थित श्री जगन्नाथ पुरी में भगवान श्री जगन्नाथ जी की रथ-यात्रा (Jagannath Rath Yatra 2019) का उत्सव पारंपरिक रीति रिवाजों के अनुसार बड़े धूमधाम से आयोजित किया जाता है। पूरी श्री कृष्ण के अवतार माने जाते हैं, मान्यता है की जगन्नाथ की रथ यात्रा का पुण्य 100 यज्ञों के बराबर है

जगन्नाथ पूरी रथ यात्रा का क्या है महत्व ? Read More »

रुक्मिणी द्वादशी क्यों मनाई जाती है ?

16 मई, 2019 के दिन रुक्मिणी द्वादशी (Rukmini Dwadashi 2019) मनाई जायेगी | रुक्मिणी द्वादशी हर वैशाख माह की द्वादशी को मनाई जाती है | शास्त्रों के मुताबिक रुक्मिणी को लक्ष्मी जी का अवतार माना गया है | मान्यता के अनुसार श्री कृष्ण ने रुक्मिणी का हरण कर उनसे विवाह किया था | और जिस

रुक्मिणी द्वादशी क्यों मनाई जाती है ? Read More »

क्या है जन्माष्टमी का महत्व ? जानिए श्री कृष्ण के बारे मैं कुछ रोचक बातें

जन्माष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव को मनाया जाता है| अष्टमी तिथि का महत्व इसलिये है क्योंकि वह वास्तविकता के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष स्वरूपों में सुन्दर संतुलन को दर्शाता है| भगवान श्रीकृष्ण का अष्टमी तिथि के दिन जन्म होना यह दर्शाता है कि वे आध्यात्मिक और सांसारिक दुनिया में पूर्ण रूप से परिपूर्ण थे

क्या है जन्माष्टमी का महत्व ? जानिए श्री कृष्ण के बारे मैं कुछ रोचक बातें Read More »

गोवर्धन पूजा से जीवन मे होगा सुख समृद्धि का वास

इस पूजा को भगवान श्रीकृष्ण ने द्वापर युग मे ब्रजवासियों के द्वारा की जाने वाली देवराज इंद्र के स्थान पर प्रारम्भ की थी। उनकी इस बात से इंद्र देव ने नाराज होकर सात दिनों तक बहुत ही भयंकर वर्षा की थी जिस कारण पूरा ब्रज मण्डल डूबने लगा था। ब्रजवासियों की इस परेशानी को देखकर

गोवर्धन पूजा से जीवन मे होगा सुख समृद्धि का वास Read More »