india tv astrologer

गोवत्स द्वादशी क्यों है खास

कार्तिक कृष्ण द्वादशी को गोवत्स द्वादशी (Govats Dwadashi) के नाम से जाना जाता है। इसे बछ बारस का पर्व भी कहते हैं। गुजरात में इसे वाघ बरस भी कहते हैं. यह एकादशी के बाद आता है। गोवत्स द्वादशी के दिन गाय माता और बछड़े की पूजा की जाती है। यह पूजा गोधुली बेला में की […]

गोवत्स द्वादशी क्यों है खास Read More »

शरद पूर्णिमा का महत्व

भारतीय धर्म ग्रंथों के अनुसार व अखंड ज्योतिष गणना के द्वारा हर माह के शुक्ल पक्ष की अंतिम तिथि पूर्णिमा होती है। यह स्थिति चन्द्रमा की कलाओं पर निर्धारित दो पक्षों (अमावस्या व पूर्णिमा) में बंटी रहती है। धार्मिक रूप से पूर्णिमा तिथि बहुत ही सौभाग्यशाली मानी जाती है। इसलिये सम्पूर्ण विश्व में ज्योतिष शास्त्र

शरद पूर्णिमा का महत्व Read More »

दशहरे त्यौहार का महत्व

प्राचीन काल से ही भारतीय संस्कृति वीरता और शौर्य की उपासक रही है। भारतीय संस्कृति कि गाथा इतनी निराली है कि देश के अलावा विदेशों में भी इसकी गूँज सुनाई देती है| तभी तो पुरी दुनिया ने भारत को विश्व गुरु माना है। दशहरा केवल त्योहार ही नही बल्कि इसे कई बातों का प्रतीक भी

दशहरे त्यौहार का महत्व Read More »

दुर्गाष्टमी पूजन और उसका महत्व

भारत देश पर्वों और मेलो की धरती है। भारत को पर्वों और मेलों की भूमि इसलिए कहा जाता है क्योंकि यहाँ पर विभिन्न धर्मों को मानने वाले लोग रहते हैं और हर साल अपने त्यौहारों और उत्सवों को मनाते हैं। दुर्गा पूजा भारत का एक धार्मिक त्यौहार है। दुर्गा पूजा को दुर्गोत्सव (Durgashtami) या षष्ठोत्सव

दुर्गाष्टमी पूजन और उसका महत्व Read More »

kaise paye manchaha pyar

प्रेम प्राप्ति के उपाय

जीवन (Life) में प्रेम का बहुत महत्व होता है | सब कुछ होते हुए भी अगर प्रेम (love) ना हो तो जीवन व्यर्थ सा लगता है | मनुष्य एक सामाजिक जिव है और जीवन व्यतीत करने और अपना वंश आगे बढ़ाने के लिए सभी मनुष्यों को एक साथी (Life Partner) की ज़रूरत होती है |

प्रेम प्राप्ति के उपाय Read More »

आपके विवाह में विलम्भ क्यों हो रहा है ?

हिन्दू धर्म (Hindu) में शामिल सोलह संस्कारों में से एक है विवाह संस्कार (Marriage) | किसी के भी जीवन में विवाह सबसे बड़ा उत्सव होता हैं | इसमें अग्नि को साक्षी मान वर-वधु एक दुसरे का जीवन भर साथ निभाने का वचन देते हैं | हिन्दू धर्म में विवाह (Marriage) सिर्फ दो लोगों का नहीं

आपके विवाह में विलम्भ क्यों हो रहा है ? Read More »

कितना शुभ है स्फटिक शिवलिंग ?

शिवलिंग (Shivling) भगवान शिव का प्रतिक है | सभी शिव भक्त शिवलिंग का पूर्ण भक्तिभाव से पूजन करते हैं | हर भक्त अपने घर, ऑफिस या काम करने की जगह पर एक शिवलिंग की स्थापना ज़रूर करता है | जो लोग अपने जीवन में रोग मुक्त होना चाहते हैं तो उन्हें शिवलिंग की स्थापना ज़रूर

कितना शुभ है स्फटिक शिवलिंग ? Read More »

सिद्धिविनायक मन्दिर का क्या है इतिहास ?

मुंबई में स्थित भगवान गणेश (Shree Ganesh) को समर्पित सिद्धिविनायक मन्दिर (Siddhivinayak Mandir) सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में प्रसिद्ध है | इस मन्दिर का निर्माण 1801 में विट्ठु और देउबाई पाटिल ने करवाया था | यहाँ हर धर्म और जाती के भक्त भगवान गणेश (Shree Ganesh) के दर्शन करने आते हैं

सिद्धिविनायक मन्दिर का क्या है इतिहास ? Read More »

क्या है विष्णु जी के वराह अवतार की कहानी

कहा जाता है की धरती पर जुर्म बढ़ जाता है तो भगवान (God) धरती पर अवतार लेकर बुराई का सर्वनाश करने आते हैं | ऐसे ही एक अवतार थे वराह (Varaha Avtaar), जिन्हें भगवान विष्णु (Lord Vishnu) के दस अवतारों में से तीसरा अवतार कहा जाता है | इस अवतार का जन्म भाद्रपद मास में

क्या है विष्णु जी के वराह अवतार की कहानी Read More »

इतिहास के कुछ अमर दोस्तों की जोड़ी

दोस्ती  वह रिश्ता है जो कोई उम्र, जात, रंग, रिश्ता, धर्म नहीं देखता | इसे सिर्फ साफ़ दिल से निभाया जा सकता है, बिना किसी मोह के | हमारे पौराणिक कथाओं में बहुत सी कहानियाँ शामिल हैं जो ऐसे ही कुछ दोस्तों की मिसालें देती हैं | दोस्ती का नाम ज़बान पर आते ही यह

इतिहास के कुछ अमर दोस्तों की जोड़ी Read More »